Lilori Sthan – एक रहस्यमय मंदिर, धनबाद, झारखण्ड

Image Source

Lilori Sthan – एक रहस्यमय मंदिर, धनबाद, झारखण्ड

Lilori Sthan – आज हम इस आर्टिकल में कतरास के lilori Sthan के बारे में बताने जा रहे है जो काफी पुराना तथा प्रसिद्ध मंदिर है इस मंदिर का जिक्र 800 वर्ष पूर्व हो चूका है यह एक रहस्यमय मंदिर जिसका इतिहास हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बतायेंगे |

यदि आप कतरास के Lilori Maa Mandir के बारे में जानने के इच्छुक है तो आप इस Article को ध्यान पूर्वक पढ़े आपको Lilori Sthan के बारे में काफी जानकारी प्राप्त हो जायेगा क्योंकि Maa Lilori Mandir का इतिहास, ख्याति, अनूठी परम्परा, स्थान, रहस्य आदि सभी बातों का जिक्र इस आर्टिकल में किया गया है |

Place of Lilori Sthan -लिलोरी माँ मंदिर स्थान

Maa Lilori Mandir धनबाद झारखण्ड के कतरास में स्थित है जो धनबाद कोयलांचळ के रूप में पुरे भारत में ही नहीं बल्कि पुरे विश्व में जाना जाता है यह देवी मंदिर धनबाद रेलवे स्टेशन से 22 कि० मी० दूर Katras में स्थित है | कतरास Dhanbad का काफी बड़ा बाजार है |

Facility for Transportation – परिवहन के सुविधा

धनबाद स्टेशन से Lilori Mandir आने के लिए टेम्पो, रिज़र्व Four व्हीलर वाहन, Buses आदि की काफी सुविधा उपलब्ध है | साथ ही धनबाद स्टेशन के आमने सामने काफी बड़े बड़े होटल्स तथा सस्ते होटल्स ठहरने के लिए मिल जायेंगे |

History of Lilori Mandir Katras -लिलोरी मंदिर का इतिहास

माँ लिलोरी मंदिर कतरासगढ़ के राजा की कुल देवी मंदिर है | उस समय की बात है जब कतरासगढ़ के राजा सुजन सिंह हुआ करते थे | राजा सुजन सिंह ने ही माता की प्रतिमा को 800 वर्ष पूर्व मध्य प्रदेश के रीवा के राजघराने के वंशज की मदद से कतरास के इस घने जंगल में माता की प्रतिमा को स्थापित किया था | उस समय यह स्थान काफी घनघोर जंगल हुआ करता था |

माता की प्रतिमा को स्थापित करने के साथ ही यह मंदिर राजघराने के परिवार के लिए यह कुल देवी मंदिर हो गई और तब से लेकर आज तक इनकी पहली पूजा प्रतिदिन राजघराने के परिवार के लोग ही करते है तथा प्रतिदिन यहाँ बली दी जाती है उसके बाद ही अन्य लोग पूजा अर्चना करते है |

लिलोरी माता की ख्याति

माँ के मंदिर की ख्याति 800 वर्ष पूर्व से ही है जब से माता की प्रतिमा को स्थापित किया गया था | माता के बारे में राजघराने के लोग भली भांति परिचित है, यदि कोई भी भक्त माँ के दरबार में दिल से अपनी मन्नतें मंगाते है तो माँ उनकी मन्नते जरूर पूरी करती है इसी कारण से काफी संख्या में श्रद्धालु लोग झारखण्ड, उत्तरप्रदेश, बिहार, बंगाल, ओडिशा से आते है |

Maa Lilori Mandir के लिए लोगो में इतनी भक्ति तथा आस्था है कि पुरे भारत ही नहीं बल्कि विदेशों से भी लोग माँ के दर्शन के लिए आते है तथा अपनी मन्नते मांगते है तथा चुनरी की गाँठ बाँधते है यदि उनकी मन्नते पूरी हो जाती है तो चढ़ावा चढाने के लिए दुबारा अवश्य आते है |

Lilori Maa ka Mandir में अलग अलग तरह के मन्नते पूरी करने आते है यदि नया गाड़ी ख़रीदे है या बच्चे का मुंडन करवाना हो या जनेऊ का कार्यकर्म हो और भी बहुत तरह की मन्नते होती है जो पूरी करने के लिए काफी श्रद्धालु लोग प्रतिदिन पहुंचते है |

इस Post को भी अवश्य पढ़े |

Most Useful Website in Hindi 100 Plus – वेबसाइट की पूरी जानकारी

Best Tourist Places in Patna in Hindi

Best Tourist Places in Dhanbad in Hindi – धनबाद के मुख्य पर्यटक स्थल

Famous Place for Marriage Ceremony – विवाह कार्यक्रम के लिए प्रसिद्ध स्थल

Maa Lilori Sthan धार्मिक स्थान तो है ही साथ ही विवाह स्थल के रूप में भी काफी प्रसिद्ध है यहाँ काफी दूर दूर से लोग विवाह का कार्यक्रम को पूरा करने के लिए आते है | यहाँ पर शादियों के लिए काफी सुविधाएँ उपलब्ध है गाड़ियों के लिए पार्किंग की जगह काफी है |

लगन के समय इतनी भीड़ रहती है की पैर रखने की भी जगह नहीं रहती है काफी अच्छा माहौल लगता है | तथा धर्मशालायें १-१ महीने पहले बुकिंग करनी होती है तो आप सोच सकते है लगन के समय एक दिन में कितने शादियाँ होती होगी |

Lilori Sthan Market – माँ मंदिर का बाजार

Lilori Mandir Katras के आसपास काफी सख्या में स्टॉल लगी हुई है तथा तरह तरह के Stall आपको मिल जायेंगे श्रृंगार से लेकर नास्ते तथा भोजन के स्टॉल उपलब्ध है | माँ मंदिर में काफी अच्छी-अच्छी धर्मशालाएँ है | साथ ही पार्टी तथा किसी भी प्रकार के समारोह के लिए सभी प्रकार के सामान उपलब्ध है |

नवमी के दिन लिलोरी स्थान

Lilori Maa Mandir Katras, Dhanbad, Jharkhand मन्नते के लिए काफी प्रसिद्ध है इसलिए नवमी के दिन आपको आश्चर्य होगा कि यहाँ लगभग 1000 बलि दी जाती है इस दिन का इंतज़ार काफी लोगो को रहता है क्योंकि नवमी के दिन पूजा के लिए अच्छा दिन माना जाता है जिसके कारण लिलोरी माँ के मंदिर में आपको पहले से ही रजिस्ट्रेशन कराना होता है तभी आप पूजा के लिए बलि दे सकते है |

परम्परा के अनुसार राज परिवार के सदस्य माँ के मंदिर में पहली पूजा तथा पहला बलि देते है उसके बाद ही अन्य लोग पूजा अर्चना करते है तथा बलि का कार्यक्रम चालू हो जाता है | इस दिन इतनी भीड़ रहती है की वहाँ का माहौल मेले जैसा प्रतीत होता है |

Lilori Sthan के नजदीक कतरी नदी

माँ लिलोरी मंदिर के समीप ही कतरी नदी बहती है जो वहाँ का सौंदर्य का और बढ़ा देती है | श्रद्धालु लोग इस नदी में स्नान, हाथ-पैर धोने के अलावा और भी अलग-अलग तरह के कार्यक्रम को पूरा करते है |

Lilori Mandir के नजदीक पार्क

Katras के Lilori Mandir के पास ही एक सुंदर पार्क बनाया गया है जो अमृत योजना के तहत नगर निगम के द्वारा बनाया गया है जिसकी लागत 3 से 4 करोड़ आंकी जाती है इस पर्यटन स्थल में Lilori Mandir Park की व्यवस्था होने से और भी आकर्षण का केंद्र बन गया है यह पार्क काफी बड़ा है तथा बच्चों के लिए टॉय ट्रैन, जमपिंग ट्रैक और भी बहुत कुछ है इस पार्क में | शौचालय तथा पानी की व्यवस्था, पेड़ों के निचे बैठने की अच्छी व्यवस्था है |

Conclusion

Lilori Sthan in Hindi – के इस पोस्ट में लिलोरी मंदिर कतरास, धनबाद, झारखण्ड (Lilori Mandir Katras, Dhanbad, Jharkhand ) जो एक रहस्यमय मंदिर है के बारे में पूर्ण जानकारी दी गई है | Lilori sthan dhanbad Jharkhand के बारे में विस्तार से बताया गया है फिर भी किसी तरह का सुझाव हो तो Comment करें |

हम आशा करते है की Lilori Sthan in Hindi के इस पोस्ट से माँ मंदिर के बारे में आपको काफी जानकारी प्राप्त होगी |

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *